Abhi aankhon me paani hai

Abhi aankhon me paani hai, Aankhen Shayari,

अपनी गैरत का समंदर अभी सूखा नहीं है
बून्द भर ही सही लेकिन अभी आंखों में पानी है