Bashir badr shayari on dil, Shair, shayari Bashir Bdr ki

हर धड़कते पत्थर को, लोग दिल समझते हैं
उम्र बीत जाती है, दिल को दिल बनाने में…

बशीर बद्र


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *