पानी बचाया जा सकता है, 

लेकिन बनाया नहीं जा सकता ।
दादा जी ने नदी में पानी देखा ।
पिता जी ने कुएं में।
हमने नल में देखा ।
बच्चों ने बोतल में ।
अब उनके बच्चे कहाँ देखेंगे ……?
जरूर विचार करें एवं
पानी को व्यर्थ न करें
         🙏🏻🙏🏻
Best Suvichar hindi
 
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *