bewafa shayari bf

दिल से रोए मगर होंठो से मुस्कुरा बैठे,

यूँही हम किसी से वफ़ा निभा बैठे,

वो हमे एक लम्हा ना दे पाए अपने प्यार का,

और हम उनके लिए अपनी ज़िंदगी गवां बैठे