मेरी आदत है खुद को मैं कभी झुठला नहीं सकता!!
तेरी कीमत समझता हूँ तुझे बतला नहीं सकता!!

नसीबों का रचा इक खेल मेरे दरमियाँ है अब!!
मैं तुझको चाहता हूँ पर मैं तुझको पा नहीं सकता!!

.

.