Mohabbat Shayari, ijhare Mohabbat Nahi Karunga

💋कल खेल में मैं नहीं रहूँगा💁

💓इजहारे मुहब्बत नहीं करुँगा,💕

💞आज पल भर सुन लो फसाना मेरा,💗

💝कल से कोई गजल मैं नहीं कहूँगा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *