Sachchi Mohabbat Shayari, Kisi Aur ko Nahi Chahenge

तुम्हारी कसम मेरे सनम

अब हिम्मत नहीं हारेंगे !

मर जायेंगे मगर तेरे सिवा

किसी और को नहीं चाहेंगे !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *