HINDI POEM – कहना तो बहोत कुछ है तुझसे – RJ VASHISHTH



कहना तो बहोत कुछ है तुझसे मगर कह कहाँ पाता हूँ सच है की जीना है तेरे बग़ैर मगर एक पल भी रह नहीं पाता हूँ – A HINDI POEM …
HINDI POEM – कहना तो बहोत कुछ है तुझसे – RJ VASHISHTH
#HINDI #POEM #कहन #त #बहत #कछ #ह #तझस #VASHISHTH
HINDI POEM – कहना तो बहोत कुछ है तुझसे – RJ VASHISHTH