Ghayal Bahut hain

Ghayal Bahut hain, Ghayal Shaayri and Shayari pe Shairi

सुना है इस महफिल में शायर बहुत हैं
कुछ हमें भी सुनाओ, आज हम घायल बहुत हैं