Sharab par Mahan Shayaro ki Shayari | Mirza Ghalib | Iqbal | Ahmad Faraz | Wasi | Saqi | Meer Taqi



शराब पीने दे मस्जिद में बैठ कर या वो जगह बता जहां खुदा नहीं -मिर्जा गालिब, मस्जिद खुदा का घर है कोई पीने की जगह नहीं.

Youtube